blogid : 319 postid : 1328104

ये है ‘बाहुबली’ के खतरनाक विलेन 'कालकेय' की असली कहानी, 6 साल तक नहीं मिली थी नौकरी

Posted On: 3 May, 2017 Entertainment में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

दो साल के इंतजार के बाद आखिरकार ‘बाहुबली 2′ सिनेमाघरों में रिलीज हो गई. लोगों को ये फिल्म बेहद पंसद भी आ रही है और कई फैन्स ने इसके तीसरे भाग की भी मांग कर डाली है. इस फिल्म के पहले भाग के किरदारों ने लोगों पर एक खास पहचान बनाई थी, बाहुबली के पहले भाग में विलेन ‘कालकेय’ तो जरूर याद होगा, जिसकी भाषा लोगों को समझ नहीं आई थी, लेकिन उसका किरदार लोगों को याद रह गया. वैसे दूसरे भाग में कालकेय नजर नहीं आएंगे. अजीबों-गरीब भाषा बोलने वाले कालकेय की एक्टिंग को दर्शकों ने खूब पसंद किया था लेकिन क्या आप कालकेय का असली नाम जानते हैं. इसके अलावा भी उनकी जिंदगी के बारे में बहुत कम लोग ही जानते हैं.


cover prabhkar


‘एक्टर’ नहीं बनना चाहते थे ‘क्रिकेटर’ प्रभाकर


Baahubali Villain

प्रभाकर तेलंगाना के महबूबनगर जिले के एक छोटे से गांव कोडंगल के रहने वाले हैं. बाहुबली में खौफनाक दिखने वाले प्रभाकर असल लाइफ में वह बेहद शर्मीले हैं. एक इंटरव्यू के दौरान प्रभाकर ने बताया था कि वो कभी फिल्मों में काम नहीं करना चाहते थे, लेकिन किस्मत उन्हें यहां लेकर आई है. साथ ही उनका कहना था कि वो हमेशा से क्रिकेटर बनना चाहते थे.


6 साल तक बेरोजगार बैठे रहे


baahubali_kalakeya_


प्रभाकर खुद को बतौर क्रिकेटर देखना चाहते थे, हालांकि ये हो नहीं पाया. प्रभाकर को उनके किसी रिश्तेदार ने उन्हें रेलवे पुलिस में नौकरी लगवाने का वादा किया था जो पूरा नहीं हुआ. इसी नौकरी के इंतजार में प्रभाकर करीब 6 साल तक बेरोजगार बैठे रहे. इसके बाद वो हैदराबाद में आकर दूसरी नौकरी ढूंढने लगे थे.


नौकरी की तलाश में ऐसे मिली थी पहली फिल्म


Prabhakar


प्रभाकर आज जो भी हैं वो उसका सारा श्रेय डायरेक्टर एस.एस.राजामौली को ही देते हैं, दरअसल, जब वो हैदराबाद में नौकरी खोज रहे थे उसी दौरान राजामौली को फिल्म ‘मगधीरा’ के लिए कुछ लोगों की जरूरत थी और वह राजामौली के पास गए, वहां से राजामौली उन्हें राजस्‍थान ले गए, राजस्‍थान में मगधीरा की शूटिंग चल रही थी. हालांकि, तब तक राजमौली ने प्रभाकर को कोई रोल ऑफर नहीं किया था.


एस.एस.राजमौली की खोज हैं प्रभाकर


Capture



राजस्‍थान से वापस आने के बाद प्रभाकर दोबारा नौकरी  की तलाश करने लगे, इसी दौरान उन्हें राजामौली के असिस्टेंट का फोन आया, प्रभाकर उसे बाद राजामौली के घर गए जहां उन्हें फिल्म मर्यादा रमन्ना में रोल ऑफर किया. लेकिन प्रभाकर को एक्टिंग नहीं आती थी जिस वजह से उन्हें राजामौली ने कनकला में एक्टिंग सीखने के लिए भेजा. साथ ही प्रभाकर को हर महीने 10 हजार रुपए भी देते थे.


एस.एस.राजमौली की वजह से प्रभाकर बने एक्टर


ss rajamouli


प्रभाकर के मुताबिक वह आज जो भी है डायरेक्टर एस.एस.राजमौली के बदौलत ही है. दरअसल, कालकेय के किरदार को साउथ के जाने-माने एक्टर प्रभाकर ने निभाया था. बाहुबली से पहले प्रभाकर एस.एस.राजामौली की ही फिल्म ‘मगधीरा’ में भी काम कर चुके हैं. हालांकि, वह फिल्म ‘मर्यादा रमन्ना’ से लाइम लाइट में आए थे. बाहुबली के अलावा साउथ की 40 से ज्यादा फिल्मों में काम कर चुके हैं. इसमें सीमा तपकई, डूकुडु, कृष्‍णम वंदे जगदगुरुम जैसी फिल्में शामिल हैं…Next



Read More:

बाहुबली फिल्म के लिए ‘कटप्पा’ ने लिए थे इतने करोड़! शाहरुख के साथ कर चुके हैं काम

कभी चॉकलेटी हीरो जैसे दिखते थे बाहुबली के ‘भल्लादेव’, अब बदल गया है लुक

‘बाहुबली’ की इस एक्ट्रेस ने 16 साल में किया था डेब्यू, विराट कोहली के साथ कर चुकी हैं काम




Tags:                             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 4.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran